Tally Full Form in Hindi (Transactions Allowed in a Linear Line Yards)


नमस्कार दोस्तों, हमारा आज का लेख Tally Full Form in Hindi (Transactions Allowed in a Linear Line Yards) से संबंधित है। Tally एक बेहतरीन सॉफ्टवेयर है जिसका इस्तेमाल आज के समय में बड़ी बड़ी कम्पनियां व व्यवसायों में अकाउंट से संबंधित कार्य करने के लिए किया जाता है।

अगर आप tally सीखना चाहते हैं और tally से संबंधित जानकारी की तलाश कर रहे हैं तो हमारा आज का आर्टिकल आपके लिए बेहद ही कारगर साबित होगा। यहां हम आपको tally का full form, tally क्या होता है, टैली कितने दिन का कोर्स है?, टैली कैसे सीखे?, Tally syllabus, टैली कोर्स करने के बाद आप कितना कमा सकते हैं? आदि से संबंधित सम्पूर्ण जानकारी देंगे।


Tally Full Form in English(Tally Full Form)


T – Transactions


A – Allowed


L – Linear


L – Line


Y – Yards


इस तरह tally का फुल फॉर्म “Transactions Allowed in a Linear Line Yards” होता है।


tally (Transactions Allowed in a Linear Line Yards) full form in Hindi | tally Meaning In Hindi

tally full form हिंदी में “लेन-देन अनुमति की लीनियर लाइन यार्ड्स” होता है।


Tally क्या है | टैली क्या है ?

Tally एक एकाउंटिंग सॉफ्टवेयर है जिसका इस्तेमाल एकाउंट्स को मेन्टेन करने में किया जाता है। आज से सालों पहले लोग अपने व्यवसाय संबंधी लेन देन के हिसाब को बड़े बड़े रजिस्ट्रो में लिखा करते थे। लेकिन आधुनिक समय में इन रजिस्ट्रो का स्थान computers ने ले लिया है। अब लोग computer में Tally software की मदद से ये सारे कार्य बहुत ही आसनी से कर रहे हैं।

सिर्फ व्यवसायों में ही नहीं बल्कि बड़ी-बड़ी कंपनियों यहां तक कि बैंकों में भी एकाउंटिंग सम्बंधी कार्यों को को तेज़ गति से तथा Accuracy के साथ करने के लिए पुरी दुनियां में Tally software का ही इस्तेमाल किया जाता है।


टैली का इतिहास | History of Tally in Hindi

Tally एकाउंटिंग कि फील्ड में आज नंबर एक सॉफ्टवेयर बना हुआ हैं। इसे यहां तक पहुंचने में काफी मेहनत लगी है। इस सॉफ्टवेयर का निर्माण साल 1986 में एक प्राइवेट भारतीय कंपनी Tally Solutions Pvt. Ltd. के द्वारा किया गया था।

बता दें, Tally कंपनी के संस्थापक श्याम सुंदर गोयंका तथा उनके बेटे भरत गोयंका हैं। शुरुआत में इस सॉफ्टवेयर को MS-DOS के नाम से जाना जाता था। बाद में साल 1988 में इस सॉफ्टवेयर का नाम बदलकर Tally कर दिया गया तथा साल 1999 में इसका नाम बदलकर Tally Solutions कर दिया गया। इसकी सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह सॉफ्टवेयर लोगों की सुविधा का पूरा ध्यान रखता है और यही वजह है कि समय-समय पर इसके नए-नए अपडेट्स आते रहते हैं।

Read This Also,

PSI full form

टैली का मुख्यालय ?

टैली का मुख्यालय हमारे देश भारत के Bangalore, karnataka में स्थित हैं।


टैली एकाउंटिंग कोर्स कैसे करें | टैली कैसे सीखे ?

अगर आप Tally Accounting Course करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको अपने नजदीकी कंप्यूटर सेंटर पर जाना होगा जहां से आप आसानी से इसे सीख सकते हैं।

लेकिन किसी भी कंप्यूटर सेंटर को ज्वाइन करने से पहले यह जरूर पता कर ले कि वह कंप्यूटर सेंटर सरकार द्वारा वेरीफाइड है या नहीं। अगर सेंटर सरकार द्वारा वेरीफाइड नहीं है तो ऐसे में आप वहां एडमिशन ना लें।

इसके अलावा आप अपनी सुविधानुसार किसी online institute से भी tally course सीख सकते हैं।

अगर आप free में tally course सीखना चाहते हैं तो आप You Tube या फिर किसी वेबसाइट की मदद भी सीख सकते हैं।

दोस्तों, हम आपको यही राय देंगे कि आप tally course किसी अच्छे institute से ही करें। ताकि आपको tally course की पुरी knowledge हासिल हो सके।

टैली कितने दिन का कोर्स है | Tallycourse duration in Hindi

अगर आप टैली कोर्स में एडमिशन लेने जा रहे हैं तो आपको यह पता होना चाहिए कि आपका course duration क्या है ?

tally course duration टैली कोर्स के प्रकार पर निर्भर करता है। यहां हम आपकों बता दें, टैली कोर्स दो प्रकार की होती है –

Basic Tally Course

Advance Tally Course

अगर आप बेसिक टैली कोर्स में एडमिशन लेना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको minimum 3 महीने का समय देना होगा।

लेकिन अगर आप Tally का Advance course करने जा रहे हैं तो आपको इसमें basic course के comparison में

extra समय देना होगा।

आप चाहें तो Tally का 1 साल का डिप्लोमा कोर्स भी कर सकते हैं।

टैली कोर्स फीस | tally course fees in Hindi

किसी भी कोर्स की फीस उसके institute पर निर्भर करती है। प्रत्येक institute अपने – अपने अनुसार fees लेते हैं।

अगर टैली कोर्स करने जा रहे हैं तो इसके लिए आपकों 3000- 5000 रूपये खर्च करने पड़ सकते हैं।

Tally Course कंहा से करें ?

भारत में आपको Tally Course करने के लिए बहुत सारे Institutes मिल जाएंगे। जिनमें से कुछ अच्छे Tally Institutes के नाम हम आपको यहां बताएंगे, इनमें से किसी में भी आप अपनी सुविधानुसार एडमिशन ले सकते हैं।

National institute of Electronics and information technology (नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी दिल्ली)

The Institute of computer accountants Borivali (द इंस्टीट्यूट ऑफकंप्यूटर अकाउंटेंट्स बोरीवली)

Ramanujan College (रामानुजन कॉलेज)

Sant Gadge Baba Amravati 1 University (सेंट गेज बाबा अमरावती यूनिवर्सिटी

Mother itnstitute of Electronics Technology Ahmedabad (मदर इंस्टिट्यूट ऑफ इलेक्ट्रॉनिक टेक्नोलॉजी अहमदाबाद)

टैली कोर्स करने के क्या फायदे हैं? | benefits of tally course in Hindi

tally course के benefits की बात की जाए तो इसके अनगिनत benefits हैं –

tally course करने के बाद आप किसी भी business या shop में account के काम को आसानी से maintain कर सकते हैं।

अगर आपकी इच्छा किसी कंपनी में जॉब करने की है तो आप tally course करने के बाद किसी भी multinational company में job कर सकते हैं

Tally Job Types –

Teacher

Data entry

Sales Pos

Self Employee

Administrator

Account Maintain etc.

टैली कोर्स करने के बाद कितना कमाया जा सकता है? | Tally के बाद salary ?


यह बात 100% sure की आप टैली कोर्स करने के बाद बेरोजगार नहीं रहेंगे।


किसी भी कोर्स को करने के बाद उसकी शुरुआती सैलरी कम होती है लेकिन जैसे-जैसे एक्सपीरियंस बढ़ता है, सैलरी भी बढ़ती जाती है।


अगर आपने Tally Course किया है और आपको Accounting की अच्छी knowledge है तो आप part time job करके भी आसानी से महीने का 8000 – 10000 रुपया कमा सकते हैं।


अगर आप full time job करते हैं तो आप आसानी 15,000 – 30,000 रुपया महीना कमा सकते हैं।


टैली कोर्स का पाठयक्रम | Tally Course Syllabus

अगर आप Tally Course में admission लेने जा रहे हैं तो आपको Tally Course के अंतर्गत किन-किन पाठ्यक्रमों का अध्ययन करना होता है, ये पता होना चाहिए –

Data Managemen

Principle of Accounting

Order processing

Fundamentals of Accounting

Inventory Managemen

Administration of complete order processing cycle

Statuary and taxation GST and TDS

Receivables and Payables Management

Banking and Payments

Accounting day to day transaction

Leave a Comment