PO full form in Hindi (Probationary Officer)

PO full form: PO (Probationary Officer) का पद बैंक के सबसे महत्वपूर्ण पदों में से एक होता है। यह एक ऑफिसर लेवल का post होता है। अगर आप भी Probationary Officer बनना चाहते हैं और आप यह समझ नहीं पा रहे हैं कि Probationary Officer बनने के लिए आपको किन किन बातों की जानकारी होनी आवश्यक है तो आपको परेशान होने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है। हमारा आज का आर्टिकल PO full form in Hindi (Probationary Officer) आपकी इस दुविधा को पूरी तरह दूर कर देगा।

आज के आर्टिकल में हम आपको PO full form, PO कैसे बने, PO बनने के लिए कितनी साल उम्र होनी चाहिए, PO परीक्षा प्रक्रिया, PO का क्या काम होता है आदि के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे।

पीओ फुल फॉर्म क्या है ?

PO Full Form in English

P – Probationary

O – Officer

इस तरह PO का फुल फॉर्म Probationary Officer होता है।

PO full form in Hindi

PO (Probationary Officer) full form हिंदी में परिवीक्षाधीन अधिकारी होता है।

PO kya hai?

पियो बैंक में एक ऑफिसर लेवल का पोस्ट होता है। बैंक में भर्ती होने वाले नए उम्मीदवार जब बैंक में अधिकारी के रूप में join होते हैं, तो उन्हें बैंक द्वारा  Entry level पद Probationary Officer का post मिलता है। Probationary Officer बैंक में 2 वर्षों तक probation period के अंतर्गत कार्य करते हैं, जिसमें वह बैंक के विभिन्न क्षेत्रों में कार्य करता है। 2 साल की training पूरी करने के  बाद उसे एक बैंक शाखा में Assistant Manager के रूप में पद्दोन्नत किया जाता है। बता दें, अपने probation period को पूरा करने के बाद ही आप एक बैंक PO असिस्टेंट मैनेजर के  रूप में काम कर सकते हैं।

Read This Also;

AMC Full Form

CEO Full Form

Bank PO(Probationary Officer) भर्ती प्रक्रिया | Bank Me PO kaise bane

लगभग सभी बैंक PO की भर्ती के लिए Probationary Officer भर्ती प्रक्रिया का आयोजन करते हैं, आम तौर पर इंस्टीट्यूट ऑफ बैंकिंग पर्सनेल सेलेक्शन (IBPS) सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों और क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों में कर्मचारियों की भर्ती करता है। IBPS एक अग्रणी बैंकिंग भर्ती निकाय है, जो क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों के लिए “IBPS PO”, “IBPS RRB PO” जैसी प्रमुख परीक्षाओं के माध्यम से उम्मीदवारों को Probationary Officer के रूप में भर्ती करता है। इस एग्जाम के तहत दो पेपर होते हैं। पहला प्री एग्जाम और दूसरा मेंस एग्जाम। इन दोनों एग्जाम को क्वालीफाई करने के बाद में आप PO बन सकते हैं। पीओ के लिये हर साल IBPS एग्जाम आयोजित करता है।

IBPS एग्जाम के माध्यम से SBI बैंक को छोड़कर आप इंडिया की किसी भी पब्लिक सेक्टर की बैंक में PO के पद पर नियुक्त किये जा सकते हैं। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया अपने यहां PO के पद के लिये अलग से PO एग्जाम आयोजित करता है।

PO (Probationary Officer) बनने के लिए योग्यता

PO शैक्षिक योग्यता | PO Qualification

PO बनने के लिए उम्मीदवार को किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से किसी भी स्ट्रीम (बीए, बीएससी, बीकॉम, बीटेक, या अन्य) में बैचलर डिग्री प्राप्त होनी चाहिए।

PO आयु सीमा | PO Age Limit

Probationary Officer बनने के लिए minimum age limit 21 वर्ष है और maximum age limit 28 वर्ष के बीच हो सकती है। आरक्षित वर्ग के कैंडिडेट को नियमानुसार उम्र सीमा में छूट भी मिलती है।

Work of PO | पीओ के कार्य ?

जैसा कि पहले हम आपको बता चुके हैं, पीओ के पद पर नियुक्ति होने के बाद कैंडिडेट को अपने Probation period को complete करना होता है। कैंडिडेट को Probation period के दौरान बैंकिंग से संबंधित एकाउंटिंग, फाइनेंस, बिलिंग, मार्केटिंग आदि की ट्रेनिंग दी जाती है। इसके साथ ही कैंडिडेट को account preparation, स्करोलिंग, पोस्टिंग आदि रूटीन वर्क भी करने पड़ते हैं।

अपनी ट्रेनिंग पूरी करने के बाद PO को असिस्टेंट मैनेजर के पद पर नियुक्त कर दिया जाता है। असिस्टेंट मैनेजर के पद पर कैंडिडेट को चेक पास करना, कैश मैनजमेंट, ग्रहकों के दैनिक लेनदेन, ड्राफ्ट जारी करना जैसे कार्य करने होते हैं। इसके साथ ही लोन, cash flow, फाइनेंस को मैनेज करना, मोर्टगगेस आदि कार्य असिस्टेंट मैनेजर की जिम्मेदारी होती हैं।

इसके साथ ही किसी बैंक का पीओ पब्लिक रिलेशन अफसर के तौर पर भी कार्य करता हैं, जंहा पर उसे ग्राहकों की शिकायत को हैंडल करना होता है। बैंक PO के कार्य में मैनेजर के कुछ कार्य भी शामिल होते हैं, जैसे clerical कार्य की निगरानी रखना, बैंक के लाभ के लिए decisions लेना और उन पर कार्य करना, cash balance का प्रबंधन करना आदि कार्य करने होते हैं।

PO ki Salary ?

एक बैंक PO की सैलरी 23,700 रुपए प्रतिमाह होती है। इसके साथ उन्हें महंगाई भत्ता, एचआरए, सीसीए और विशेष भत्ता के अलावा मेडिकल सेवा भी मिलता है। इस तरह कुल मिलाकर एक बैंक PO की प्रति महीने की सैलरी करीबन 38,700 रुपए से लेकर 42,000 तक बन जाती है।

वहीं अगर SBI बैंक पीओ की बात करें तो SBI PO की बेसिक सैलरी 27620 रुपए है। दो वर्षों के लिए 1,145 रुपए की वार्षिक वेतन वृद्धि के साथ 30,560 रुपए का बेसिक वेतन मिलता है। अधिकतम बेसिक सैलरी 42,020 रुपए है।

PO से अक्सर पूछे वाले सवाल | PO FAQs

Bank PO Full form ?

PO full form (Probationary Officer)

Probationary officer meaning in Hindi ?

Probationary officer meaning in Hindi परिवीक्षाधीन अधिकारी होता है।

Bank PO Full Form in Hindi ?

Bank PO Full Form in Hindi परिवीक्षाधीन अधिकारी होता है।

बैंक में पीओ कौन सी पोस्ट होती है?

बैंक में पीओ स्केल-1 का सहायक प्रबंधक की post होती है। PO ग्रेड I स्केल के जूनियर मैनेजर होता है और इसलिए उन्हें स्केल-1 ऑफिसर कहा जाता है।

Po का मतलब क्या होता है?

Po का मतलब होता है प्रोबेशनरी ऑफिसर या परिवीक्षाधीन अधिकारी। पीओ मूल रूप से बैंक में स्केल-1 का असिस्टेंट मैनेजर होता है और यह ग्रेड-1 स्केल का जूनियर मैनजर होता है, इसलिए उसे स्केल-1 ऑफिसर कहा जाता है।

बैंक पीओ का सैलरी कितना है?

एक बैंक PO की सैलरी 23,700 रुपए प्रतिमाह होती है।

आज आपने क्या सीखा?

दोस्तों, आज के आर्टिकल में हमने आपको PO full form in Hindi (Probationary Officer) के बारे में सम्पूर्ण ज्ञान दिया है। जिसमें हमने PO का फुल फॉर्म क्या है?, PO kaise bane?, PO qualification, PO age limit, PO के कार्य, PO ki Salary आदि के बारे में सम्पूर्ण जानकारी दी है।

यदि अभी भी आपके मन में PO full form in Hindi (Probationary Officer) से संबंधित कोई सवाल या सुझाव है तो आप हमें कमेंट में बता सकते हैं। हम आपके समस्याओं का समाधान करने की पुरी कोशिश करेंगे। धन्यवाद||

Leave a Comment