NEET Full Form in Hindi (National Eligibility cum Entrance Test)


भारतीय मेडिकल और डेंटल कॉलेजों में प्रवेश के लिए राष्ट्रीय स्तर का Entrance Exam, NEET फोर्म NEET Full Form कहलाता है। अगर आप मेडिकल के क्षेत्र में अपना भविष्य बनाना चाहते हैं तो आपको NEET Exam को अच्छे अंक से qualify करना होगा तभी भारत के टॉप medical कॉलेजेस में प्रवेश पा सकेंगे।


NEET Exam को qualify करने के लिए आपको NEET Exam सम्बन्धित सम्पूर्ण जानकारी हासिल करनी होगी। हमारा आज का article neet ka full form in Hindi (National Eligibility cum Entrance Test) आपके लिए ही है। जहां हम आपको NEET Kya Hai, नीट का पेपर कैसा होता है व इसके लिए योग्यता क्या होती है आदि से संबंधित जानकारी देगें।


NEET का फुल फॉर्म क्या है ?


NEET Full Form in English


N – National


E – Eligibility


E – Entrance


T – Test


इस तरह NEET का फुल फॉर्म “National Eligibility cum Entrance Test” होता है।


NEET full form in Hindi


NEET full form हिंदी में “राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा” होता है।

Read This Also,
ADCA Full Form

NEET Full information in Hindi


Name of ExamNEET (National Eligibility cum Entrance Test)
OrganizerNTA (National Testing Agency)
level of examAll India Level (अखिल भारतीय स्तर)
Medium of examinationNEET UG Offline NEET PG – Online
Language/MediumNEET UG English, Hindi, Assamese, Bengali, Gujarati, Marathi, Tamil, Telugu, Oriya, Kannada and Urdu NEET PG – English
NEET Exam DurationNEET UG – 3 Hours NEET PG – 3 ½ Hours
Total Marks in NEETNEET UG – 720 Marks
NEET PG – 1200 Marks
Question TypeMultiple Choice Questions (MCQ)


NEET क्या है | नीट क्या है?


NEET एक Entrance Test है, अगर आप मेडिकल के क्षेत्र में अपना भविष्य बनाना चाहते हैं तो आपको NEET Exam को अच्छे marks लाकर पास करना होगा। इसे पास करने के बाद ही आप मेडिकल क्षेत्र के कोर्सेज जैसे- MBBS, BDS, MS, MD, MDS आदि में एडमिशन पा सकते हैं।


NEET (नीट) एग्जाम को National Testing Agency के द्वारा करवाया जाता है। कहने का मतलब है कि नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ही NEET Exam को ऑर्गेनाइज्ड कराता है।


National Testing Agency को उसके शार्ट फॉर्म NTA के नाम से भी जाना जाता है।


NEET का इतिहास?


NEET की शुरुआत साल 2013 में हुई। इससे पहले भारत में मेडिकल में एडमिशन के लिए छात्रों को कई सारे एंट्रेंस एग्जाम से गुजरना पड़ता था, देश के अलग-अलग कॉलेज व अलग-अलग राज्य अपना खुद का इंट्रेंस एग्जाम कंडक्ट कराते थें, जिसके कारण एडमिशन में बहुत सारा करप्शन होता था। स्टूडेंट्स को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता था।


इन्हीं बातों को ध्यान में रखकर पूरे इंडिया के लिए एक ही एंट्रेंस एग्जाम का कांसेप्ट लाया गया और NEET की शुरुआत की गई।


NEET क्यों जरूरी है? | नीट करने के फायदे?


मेडिकल के क्षेत्र में अपना करियर बनाना आज के युवाओं का सपना होता है। ऐसे में ये जरूरी होता है कि students, भारत के टॉप मेडिकल कॉलेज में एडमिशन पाएं।


भारत में टॉप मेडिकल यूनिवर्सिटी में प्रवेश पाने के लिए उम्मीदवारों को NEET परीक्षा देना और उसे क्वालीफाई करना अत्यंत जरूरी होता है। तभी वे मेडिकल क्षेत्र में अपने मनपसंद colleges व कोर्सेज जैसे- MBBS, BDS, MS, MD, MDS आदि में आसानी से एडमिशन पा सकते हैं और अपना करियर बना सकते हैं।


यहां एक बार फिर हम आपको क्लियर कर दें कि स्टूडेंट NEET एग्जाम में जैसा अंक प्राप्त करते हैं, उसी के आधार पर उन्हें अलग-अलग सरकारी और प्राइवेट मेडिकल Colleges और Courses में एडमिशन मिलता है।


NEET Exam के प्रकार?


NEET Exam के अंतर्गत दो तरह के एग्जाम conduct कराए जाते हैं –

NEET UG

NEET PG


NEET UG


NEET UG जिसका फुल फॉर्म National Eligibility-Cum Entrance Test “Undergraduate” Course होता है।


अगर उम्मीद्वार medical क्षेत्र से जुड़े कोर्स MBBS और BDS में admission पाना चाहता है तो उसे NEET UG Exam को पास करना होगा।


NEET PG


NEET PG जिसका फुल फॉर्म National Eligibility-Cum Entrance Test “Post Graduate“ Course होता है।


अगर उम्मीद्वार medical क्षेत्र से जुड़े कोर्स MS और MD में admission पाना चाहता है तो उसे NEET PG Exam को पास करना होगा।


नीट की परीक्षा देने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?


NEET UG के लिए पात्रता | Eligibility for NEET UG Exam


NEET UG Exam में बैठने के लिए उम्मीद्वार की minimum educational qualification 12th पास निर्धारित की गई है। यहां हम आपको बता दें, अगर आपने 12th minimum 50% marks के साथ qualify किया है तभी आप NEET UG Exam में बैठ सकते हैं।


बता दें, जो उम्मीदवार 12th की परीक्षा दे रहा है, वह भी NEET UG के लिए आवेदन कर सकता है। हालाँकि 12th की परीक्षा पास करने के बाद ही उनके प्रवेश की पुष्टि होती है।


इसके साथ ही आपको ये भी पता होना चाहिए कि NEET UG Exam में बैठने के लिए 12th में physics, chemistry, biology (PCB) सब्जेक्ट होना अनिवार्य होता हैं।


NEET PG के लिए पात्रता | Eligibility for NEET PG Exam


NEET PG के लिए उम्मीद्वार को MCI Recognized Medical College से एमबीबीएस कोर्स किया होना जरूरी है, तभी वह NEET PG एंट्रेंस एग्जाम के लिए एलिजिबल होते हैं।


NEET Exam की Age limit?


NEET Exam में बैठने के लिए एक उम्मीदवार की minimum Age limit 17 वर्ष जबकि maximum age limit 25 वर्ष निर्धारित की गई है।


OBC/PWD/ST/SC के लिए maximum age limit 30 वर्ष तक निर्धारित की गई है।


NEET Exam Pattern?


NEET UG Exam 3 घंटे की और 720 अंक की होती है, जिसमें 180 मल्टीपल चॉइस क्वेश्चन पूछे जाते हैं।


लेकिन NEET PG Exam 3 घंटे 30 मिनट की और 1200 अंक की होती है, जिसमें 300 मल्टीपल चॉइस क्वेश्चन पूछे जाते हैं।


दोनों ही नीट परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग होती है जिसमें एक गलत उत्तर पर 1/4 अंक कट कर लिया जाता है।


NEET Exam Language?


NEET UG exam में आप अपनी सुविधानुसार लैंग्वेज जैसे – हिंदी, अंग्रेजी आदि में दे सकते हैं।


लेकिन NEET PG exam आप केवल English language में ही दे सकते हैं।


NEET परीक्षा की तैयारी कैसे करें?


आमतौर पर 12वीं के बाद NEET Exam की तैयारी करने वालों छात्रों के लिए सबसे बड़ी यह दुविधा होती है कि NEET परीक्षा की तैयारी कैसे करें।


यहां हम आपकी सुविधा के लिए NEET Exam की तैयारी से संबन्धित कुछ विशेष बातों को point में बताने जा रहे हैं ताकि आप उन बातों को फॉलो करके आप बहुत ही आसानी से इस परीक्षा को पास कर सकें !


Syllabus की जानकारी रखें।

सही टाइम टेबल बनाएं।

एक्सपर्ट से मदद लें।

11th&12th की किताबें पढ़ें।

मॉक टेस्ट्स देने की प्रैक्टिस करें।

सैंपल पेपर्स हल करें।

कमजोर विषयों पर गौर करें।

खुद को मोटिवेट रखें।


नीट की तैयारी के लिए बुक | Best NEET Preparation Book


NCERT Physics of class XI & XII


NCERT Biology of Class XI and XII


DC Pandey Objective Physics


Objective NCERT at your FINGERTIPS for NEET-AIIMS – Biology


Physical Chemistry by O.P. Tandon


Trueman’s Objective Biology for NEET Vol. I & II


Pradeep Publication’s Biology


Elementary Problems in Organic Chemistry for NEET/AIIMS by M. S. Chauhan


MTG Objective NCERT at your Fingertips


NEET से अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न | NEET FAQs

नीट में कितने चांस मिलते है?

नीट परीक्षा 2022 के लिए प्रयासों की संख्या की कोई सीमा अब तक तय नहीं की गई है।

नीट फुल फॉर्म इन हिंदी?

नीट फुल फॉर्म हिंदी में “राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा” होता है।

नीट फीस?

NEET exam के आवेदन के लिए general candidates को 1500 जबकि SC-ST, PWD और Transgender candidates को 800 फीस देनी होगी। जबकि General EWS और OBC NCL category students को 1400 रुपए परीक्षा फीस देनी हाेगी। इसके अलावा सर्विस चार्ज या जीएसटी अलग से देना होगा।

नीट कितने साल का होता है?

अगर आप 12वीं के बाद NEET EXAM paas करते हैं तो आपको 4 वर्षीय स्नातक पाठ्यक्रम करने को मिलेगा।


NEET के अन्य फुल फॉर्म


TermFull Form
NEETNational Economic Education Trust
NEETNew Engineering Education Transformation
NEETNuclear Excitation by Electronic Transition
NEETNuclear Energy Enabling Technologies
NEETNew And Emerging Environmental Technology
NEETNavy Electricity and Electronics Training
NEETNorth East Estates and Trusts
NEETNot in Education Employment and Training
NEETNo Excuse Extension Time
NEETNo Education Employment Training
NEETNano Emitter Electrospray Technology
NEETNegril Education Environment Trust


आज आपने क्या सीखा?


दोस्तों, आज के आर्टिकल में हमने आपको neet ka full form in Hindi (National Eligibility cum Entrance Test) के बारे में सम्पूर्ण ज्ञान दिया है। जिसमें हमने NEET का full form, NEET क्या होता है, NEET का गठन कब हुआ?, NEET कैसे करें?, NEET syllabus, NEET के लिए योग्यता? आदि के बारे में बताया है।


यदि अभी भी आपके मन में NEET से संबंधित कोई सवाल या सुझाव है तो आप हमें कमेंट में बता सकते हैं। हम आपके समस्याओं का समाधान करने की पुरी कोशिश करेंगे। धन्यवाद||

Leave a Comment