IPS full form in Hindi (Indian Police Service) IPS कैसे बने?

IPS full form: IPS ऑफिसर का पद पुलिस के वरिष्ठ पदों में से एक है। अगर आप IPS ऑफिसर बनने की सोच रहे हैं और आप यह समझ नहीं पा रहे हैं कि IPS बनने के लिए आपको किन किन बातों की जानकारी होनी आवश्यक है तो आपको परेशान होने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है। हमारा आज का आर्टिकल IPS full form in Hindi (Indian Police Service), आईएएस फुल इनफार्मेशन इन हिंदी आपकी इस दुविधा को पूरी तरह दूर कर देगा।

आज के आर्टिकल में हम आपको आईपीएस फुल फॉर्म सैलरी, IPS कैसे बने, IPS banne ke liye konsa subject lena chahiye, IPS बनने के लिए कितनी साल उम्र होनी चाहिए, IPS परीक्षा प्रक्रिया, IPS अधिकारी की शारीरिक दक्षता, IPS officer का क्या काम होता है आदि के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे।

Table of Contents

IPS Full Form in English | आईपीएस का फुल फॉर्म इंग्लिश में

  • I – Indian
  • P – Police
  • S – Service

IPS full form in Hindi

IPS (Indian Police Service) full form हिंदी में भारतीय पुलिस सेवा होता है।

IPS क्या है?

जैसा कि ऊपर IPS के फुल फॉर्म से ज्ञात हो रहा है कि  IPS का पद एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी का पद होता है जो कि भारत सरकार के गृह मंत्रालय अधीन कार्य करता है।

IPS को दो अंग और भी होते हैं। जिन्हें IAS और IFS के नाम से जाना जाता है –

  • IAS फुल फॉर्म हिंदी Indian Administrative Service(भारतीय प्रशासनिक सेवा)
  • IFS Full form Indian Forest Service (भारतीय वन सेवा)

IPS कैसे बने? | IPS Kaise bane

IPS की परीक्षा सिविल सेवा परीक्षा के अंतर्गत होती है। इस परीक्षा का आयोजन संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा किया जाता है।

आप अपना graduation complete करने के बाद ही IPS की परीक्षा में भाग ले सकते हैं। अगर आप graduation के तीसरे वर्ष में हैं तब भी आप इस परीक्षा में भाग ले सकते हैं।

आईपीएस का एग्जाम कैसे होता है | IPS Exam Pattern

UPSC द्वारा IPS परीक्षा प्रक्रिया को तीन चरणों में कराया जाता है। प्रथम दो चरणों में लिखित परीक्षा देनी होती है और तीसरे चरण में Interview होता है। Interview के बाद फिजीकल टेस्ट के लिए बुलाया जाता है।

आईपीएस का एग्जाम कैसे होता है

First Stage – Prelims Exam (प्रारम्भिक परीक्षा)

Prelims Exam में कैंडिडेट्स को दो प्रश्न पत्र  (CSAT/General Studies–I और CSAT/General Studies –II) देने होते हैं। दोनों ही प्रश्न पत्र 2-2 घंटे की अवधि के और 200–200 अंक के होते हैं। इन दोनों ही प्रश्न पत्रों में ऑब्जेक्टिव टाइप के प्रश्न पूछे जाते हैं।

इसमें कैंडिडेट्स का दूसरा प्रश्न पत्र सिर्फ क्वालीफाइंग होता है। जिसमें पास होने के लिए कम से कम 33% मार्क्स लाने होते हैं। पहले पेपर के मार्क्स ही सिर्फ कटऑफ में जोड़े जाते हैं। इसके आधार पर ही Mains Exam के लिए कैंडिडेट्स को बुलाया जाता है।

यहां कैंडिडेट्स के लिए यह जानना जरूरी है कि आप Prelims Exam pass करने के बाद ही Mains Exam में बैठ सकते हैं।

Second Stage – Mains Exam (मुख्य परीक्षा)

Mains Exam में कैंडिडेट्स को कुल नौ प्रश्न पत्र देने होते हैं। इन नौ प्रश्न पत्र में से दो प्रश्न पत्र में आपको सिर्फ क्वालीफाइंग करना होता है, इनमें आपको 33% नंबर लाना जरूरी होता है। ये दोनों ही पेपर तीन-तीन घंटे की अवधि के होते हैं। इन दो प्रश्न पत्रों के marks नहीं जोड़े जाते हैं। बाकी शेष 7 प्रश्न पत्रों के marks जोड़े जाते हैं।

कैंडिडेट्स यहां जान लें कि Prelims और Mains परीक्षा पास करने के बाद ही उन्हें interview के लिए बुलाया जाता है।

Third Stage – Interview

Prelims और Mains परीक्षा पास करने के बाद कैंडिडेट्स को interview के लिए बुलाया जाता है। IPS की परीक्षा प्रक्रिया में Interview को सबसे कठिन चरण के रुप में देखा जाता है। क्योंकि  Interview बहुत ही कठिन होता है।

Interview के बाद फाइनल मेरिट लिस्ट तैयार की जाती है जो कि इंटरव्यू में मिले नंबर को जोड़कर तैयार होती है। इसी के आधार पर ऑल इंडिया रैंकिंग निर्धारित की जाती है। ये पूरा IPS, IAS और IFS ऑफीसर के सेलेक्शन का प्रोसेस होता है।

इसमें अलग-अलग कैटेगरी जैसे कि General, SC, ST, OBC, EWS की ranking तय की जाती है और इस ranking के आधार पर IAS, IPS या IFS rank दी जाती है। जिनकी top rank होती है, उनको IAS post मिलता है। इसके बाद कि rank के लोगों को IPS और IFS की post मिलती है।

IPS Physical Test

Interview qualify करने के बाद में कैंडिडेट्स के Physical Test होते हैं।

Physical Test में आपको घबराने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है। जब आप अपनी कड़ी मेहनत के दम पर ऊपर के तीनों चरण क्वालीफाई कर सकते हैं तो आप Physical Test भी आसानी से क्वालीफाई कर जाएंगे।

IPS अधिकारी बनने के लिए शारीरिक दक्षता

UPSC द्वारा IPS अधिकारी बनने के लिए एक निश्चित शारीरिक मापदंड तय किया गया है जिसके अनुसार –

लंबाई (height)

  • पुरुषों की height – 165 से.मी.
  • महिलाओं की height – 150 से.मी.

चेस्ट(chest)

  • पुरुषों का chest – 84 से.मी.

आंखों का vision

  • कमजोर आंखों का vision – 6/12 या 6/9
  • आंखों का vision – 6/6 या 6/9

IPS बनने के लिए Age limit

IPS बनने के लिए आपकी उम्र minimum age 23 वर्ष होनी चाहिए। वहीं IPS की परीक्षा में बैठने की maximum age limit 35 वर्ष तय की गई है।

इस Age limit में कैटेगरी वाइज कुछ छूट भी दी गई है –

  • सामान्य वर्ग के लिए maximum age limit 30 वर्ष
  • पिछड़ा वर्ग के लिए maximum age limit 33 वर्ष
  • अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लिए maximum age limit 35 वर्ष तय की गई है।

IPS officer के कार्य | Work of IPS Officer

किसी भी जिले का पुलिस विभाग का सबसे High Post IPS officer का होता है। एक IPS officer को बहुत ज्यादा सम्मान व शक्ति प्राप्त होती है। इसलिए, आज देश के लगभग प्रत्येक युवा का स्वप्न IPS officer बनने का होता है।

  • IPS officer का कार्य जिले में सुचारू रूप से कानून व्यवस्था को बनाए रखना और मेंटेन रखने का होता है। इसके लिए इनको कड़ी ट्रेनिंग भी दी जाती है।
  • एक IPS officer की जिम्मेदारी होती है कि वह अपने जिले के प्रत्येक थाने पर कड़ी निगाह रखे ताकि उसके जिले में पुलिस द्वारा किसी भी प्रकार के कानून का उल्लंघन ना हो।
  • इसके साथ ही एक IPS officer अपने जिले में हो रहे आपराधिक मामलों की रिपोर्ट अपने राज्य के पुलिस विभाग को देता है।

IPS Banne Ke liye Konsa Subject Lena Chahiye

आईपीएस बनने के लिए किसी प्रकार का कोई खास विषय चयन करने की अवश्यकता नहीं है। आप अपनी रुचि के अनुसार कोई भी subject का चयन भी कर सकते हैं और साथ में side से आप IPS परीक्षा की तैयारी करते रहें। आप अपने 11th में किसी भी स्ट्रीम (science, commerce, arts) से पढ़ाई कर सकते हैं।

IPS Officer की Salary?

एक आईपीएस अधिकारी को Salary के अलावा पीएफ, पेंशन, सरकारी क्वार्टर जैसी मूलभूत सुविधाएं भी दी जाती है।

एक IPS Officer की Salary अलग-अलग पोस्ट पर अलग-अलग होती है। जैसे – इसके तहत चुने गए अधिकारी DGP को ₹80,000, SP का वेतनमान 37,400 से 67,000 होता है।

IPS से अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न | IPS FAQs

आईपीएस ऑफिसर की फुल फॉर्म क्या है?

आईपीएस ऑफिसर की फुल फॉर्म Indian Police Service होता है।

आईएएस पीसीएस का फुल फॉर्म क्या होता है?

आईएएस पीसीएस का फुल फॉर्म क्रमशः Indian Administrative Service (भारतीय प्रशासनिक सेवा), Provincial Civil Service (प्रांतीय सिविल सेवा) है।

आईपीएस बनने के लिए लड़कियों की हाइट कितनी होनी चाहिए?

आईपीएस बनने के लिए लड़कियों की हाइट 150 से.मी. होनी चाहिए।

आईपीएस बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना पड़ता है?

आईपीएस बनने के लिए किसी प्रकार का कोई खास सब्जेक्ट का चयन करने की अवश्यकता नहीं है। आप अपनी रुचि के अनुसार कोई भी subject का चयन करके अपनी 12वीं और स्नातक की पढाई कर सकते हैं।

IPS की तैयारी कैसे करें?

IPS की तैयारी करने के लिए आप हमारे आज के लेख को पढ़ें। इसमें हम पूरे विस्तार से IPS कैसे बने, इसके लिए योग्यता, IPS क्या है, IPS की तैयारी कैसे करें, चयन प्रक्रिया, IPS Officer की Salary आदि के बारे में बताया है।

आईपीएस ऑफिसर के लिए कितनी पढ़ाई होनी चाहिए?

आईपीएस ऑफिसर के लिए आपकी graduation तक की पढ़ाई complete होनी चाहिए। इसके बाद ही IPS की परीक्षा में भाग ले सकते हैं। अगर आप graduation के तीसरे वर्ष में हैं तब भी आप इस परीक्षा में भाग ले सकते हैं।

आज आपने क्या सीखा?

दोस्तों, आज के आर्टिकल में हमने आपको IPS full form in Hindi (Indian Police Service) के बारे में सम्पूर्ण ज्ञान दिया है। जिसमें हमने IPS का कार्य, IPS कैसे बने, इसके लिए योग्यता, IPS क्या है, IPS की तैयारी कैसे करें, चयन प्रक्रिया, IPS Officer की Salary आदि के बारे में बताया है।

यदि अभी भी आपके मन में IPS से संबंधित कोई सवाल या सुझाव है तो आप हमें कमेंट में बता सकते हैं। हम आपके समस्याओं का समाधान करने की पुरी कोशिश करेंगे। धन्यवाद||

Leave a Comment