CEO full form in Hindi | CEO ka Full Form (Chief executive officer)

CEO full form: CEO का post किसी भी संस्था या कंपनी के सबसे बड़ा अधिकारी का post होता है  है। अगर आप भी CEO बनने की चाह रखते हैं और आप यह समझ नहीं पा रहे हैं कि CEO बनने के लिए आपको किन किन बातों की जानकारी होनी आवश्यक है तो आपको परेशान होने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है। हमारा आज का आर्टिकल CEO full form in Hindi (Chief executive officer) आपकी इस दुविधा को पूरी तरह दूर कर देगा।

आज के आर्टिकल में हम आपको CEO full form, CEO कैसे बने, CEO बनने के लिए शैक्षिक योग्यता, CEO चयन प्रक्रिया, CEO salary, CEO का क्या काम होता है, CEO बनने के Tips आदि के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे।

सी. ई. ओ. की फुल फॉर्म क्या है?

CEO Full Form in English

C – Chief

E – Executive

O – Officer

CEO full form in Hindi

सीईओ का फुल फॉर्म हिंदी में मुख्य कार्यकारी अधिकारी होता है।

CEO क्या है? | सीईओ का मतलब क्या होता है?

CEO का Meaning हिंदी में मुख्य कार्यकारी अधिकारी होता है। जिसे english में Chief Executive Officer भी कहाँ जाता है।

किसी Company या किसी Organization के मुख्य अधिकारी का पद CEO का होता है। CEO के हाथों में ही उस Company या Organization की बागडोर होती है। कंपनी में मालिक के बाद यदि कोई निर्णय लेता है तो वो निर्णय होता है एक CEO का।

दूसरे शब्दों में, सीईओ किसी संस्था या कम्पनी में सबसे वरिष्ठ कार्यकारी या corporate officer या administrator होता है, जो पूरे संगठन और उसके profit management के लिए जिम्मेदार होता है।

सरल शब्दों में, जो व्यक्ति किसी संस्था या कम्पनी के कार्य को मुख्य भूमिका के साथ संभालता है अर्थात् जो कंपनी का कर्ताधर्ता होता है, वह व्यक्ति उस Company या संस्था का CEO कहलाता है।

कई कंपनी में CEO के स्थान पर MD नियुक्त किए गए होते हैं, वो भी कंपनी के CEO की ही भुमिका निभाते हैं।

MD Full form – Managing Director.

CEO कैसे बने? | CEO चयन प्रक्रिया?

किसी भी संस्था या कंपनी में CEO उस Company का सबसे बड़ा व मुख्य अधिकारी होता है। उस Company या Organization के success या फिर नुकसान के पीछे CEO का ही हाथ होता है, क्योंकि पूरी कंपनी की बागडोर सीईओ के हाथ में ही होती है।

ऐसे में इस पोस्ट के लिए किसी भी व्यक्ति का चुनाव बड़ी सावधानी से किया जाता है, किसी भी संस्था या कंपनी के CEO के चयन का काम Company के board of director करते हैं।

CEO कैसे बने? | CEO चयन प्रक्रिया?

Company का Board Of Director पहले उसे Company में काम करने वाले सभी employees पर नज़र रखते हैं और फिर उस Company में जो भी employee सबसे अच्छा और मेहनती होता है, उसके ही हाथो में वो Company का Future Secure समझकर उसे Company का CEO बनाते हैं।

Read this also: IPS full form

CEO बनने के लिए शैक्षिक योग्यता?

एक संगठन के सीईओ बनने के लिए किसी विशिष्ट शैक्षिक योग्यता की आवश्यकता नहीं होती है।

किसी संगठन के CEO का पद उस संगठन के निदेशक मंडल द्वारा नियुक्त किया जाता है। लेकिन आमतौर पर यह देखा गया है कि अधिकांश सीईओ के पास MBA या कोई technical degree होती है।

ऐसे में अगर आपके पास भी MBA या कोई technical degree है तो आप CEO बनने के लिए एक उचित उम्मीदवार हैं। इसके साथ ही किसी संगठन के CEO का पद पाने के लिए कड़ी मेहनत, अनुभव और बिज़नेस नेटवर्किंग की भी ज़रूरत होती है।

CEO Salary कितनी होती है? | सीईओ की सैलरी कितनी होती है?

एक CEO Salary, उसके कंपनी पर निर्भर करती है। सामान्यतः किसी बड़ी company में एक CEO की Salary करोड़ों में होती है और वहीं किसी average company में एक CEO की Salary लाखों में हो सकती है। ऐसे में आप समझ ही गए होंगे कि एक CEO की Salary इस बात पर निर्भर करती है की वह किस कंपनी या संस्था का CEO है।

सीईओ का क्या कार्य होता है? | CEO Roles and Responsibilities

जैसा कि ऊपर हम आपको बता चुके हैं, किसी भी Company या Organization की बागडोर CEO के हाथों में ही होती है। कंपनी में मालिक के बाद यदि कोई निर्णय लेता है तो वो निर्णय CEO का ही होता है। ऐसे में चाहे company बड़ी हो या फिर छोटी CEO का काम और उसकी जिम्मेदारियां अधिक होती हैं।

यदि कंपनी छोटी है और कंपनी के कर्मचारी सीमित हैं तो कंपनी के सारे काम की जिम्मेदारी CEO के ऊपर ही होती है। लेकिन यदी कंपनी बड़ी है तो CEO की मदद के लिए अन्य कर्मचारी भी नियुक्त होते हैं। CEO का काम कंपनी और ऑर्गनाइजेशन पर आधारित है।

नीचे हमने कुछ Work बताए हुए हैं, जिसे करना आमतौर पर किसी संगठन के सीईओ की Responsibility होती है –

  • बोर्ड के सदस्यों को advice और information देकर बोर्ड के management और administration का समर्थन करना।
  • कंपनी का evaluation करना और support देना।
  • Government, Share Holder, Investor के साथ बातचीत करना।
  • Design, marketing, promotion, distribution का ध्यान रखने के साथ ही products and services की quality का मूल्यांकन करना।
  • कंपनी के development के लिए short-term and long-term strategy तैयार करना।
  • कंपनी में अपने Under कार्य करने Employees पर नजर रखना कि Employee कैसे काम करते है? और उन्हें सही राह दिखाना।
  • कंपनी के competitor पर नजर रखते हुए strategy तैयार करना।।
  • कंपनी के लिए ऐसे लक्ष्य बनाना, जो strategic तरीके से measurable और कंपनी के लिए अच्छे हो।
  • बोर्ड की मंजूरी के लिए वार्षिक बजट की सिफारिश करना और विवेकपूर्ण तरीके से मौजूदा कानूनों और नियमों के अनुसार उन बजट दिशानिर्देशों के भीतर संगठन के संसाधनों का प्रबंधन करना।

CEO बनने के Tips

  1. Get the Qualifications
  2. Develop the Right Skills
  • Leadership skills
  • Business acumen
  • Decision-making
  • Stress Management
  • Resourcefulness
  • Self-confidence
  1. Take Risks
  2. Make Valuable Connections
  3. Be Realistic

CEO से अक्सर पूछे जाने वाले सवाल | CEO FAQs

जिला पंचायत सीईओ को हिंदी में क्या कहते हैं?

जिला पंचायत सीईओ को हिंदी में मुख्य विकास अधिकारी कहा जाता है।

सीईओ का सैलरी कितना होता है?

एक CEO Salary, उसके कंपनी पर निर्भर करती है। सामान्यतः किसी बड़ी company में एक CEO की Salary करोड़ों में होती है। Google के CEO सुंदर पिचाई की सैलरी करोड़ों में है। किसी average company में एक CEO की Salary लाखों में भी हो सकती है।

सीईओ का क्या नाम है?

सीईओ का नाम पूरा हिंदी में मुख्य कार्यकारी अधिकारी होता है और इंग्लिश में Chief executive officer होता है।

सीईओ का क्या मतलब है इसका क्या उपयोग है?

सीईओ का मतलब हिंदी में मुख्य कार्यकारी अधिकारी होता है। और सीईओ का उपयोग, किसी Company या किसी Organization की बागडोर को अपने हाथ में लेना होता है।

सीईओ बनने के लिए क्या करे?

किसी कंपनी में सीईओ बनने के लिये न्‍यूनतम योग्‍यता बिजनेस एडमिनिस्‍ट्रेशन में बैचलर डिग्री होती है।

सीईओ बनने के लिए कौन सा कोर्स करना पड़ता है?

सीईओ बनने के लिए आपको सबसे पहले किसी भी सब्जेक्ट से अपनी 12वीं की पढ़ाई पूरी करनी होगी। उसके बाद आप किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से किसी भी विषय में ग्रेजुएशन करना होगा। ग्रेजुएशन पास करने के बाद आपकों दो वर्ष का एमबीए कोर्स करना होगा। अपनी एमबीए की पढाई पूरी करने के बाद ही आप किसी कंपनी में नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं।

कंपनी में सबसे बड़ा पद कौन सा होता है?

किसी भी कंपनी में सबसे बड़ा पद एमडी या सीईओ का होता है।

आज आपने क्या सीखा?

दोस्तों, आज के आर्टिकल में हमने आपको CEO full form in Hindi | CEO ka Full Form (Chief executive officer) के बारे में सम्पूर्ण ज्ञान दिया है। जिसमें हमने CEO full form, CEO कैसे बने, CEO बनने के लिए शैक्षिक योग्यता, CEO चयन प्रक्रिया, CEO salary, CEO का क्या काम होता है, CEO बनने के Tips आदि के बारे में बताया है।

यदि अभी भी आपके मन में CEO से संबंधित कोई सवाल या सुझाव है तो आप हमें कमेंट में बता सकते हैं। हम आपके समस्याओं का समाधान करने की पुरी कोशिश करेंगे। धन्यवाद||

Leave a Comment