BPT Full Form in hindi (Bachelor of Physiotherapy)

नमस्कार दोस्तों, Physiotherapy, चिकित्सा के क्षेत्र की एक ऐसी पद्धति है, BPT Full Form (Bachelor of Physiotherapy) जिसमें शारीरिक रोगों का इलाज बिना दवाइयों के नियमित व्यायाम, मालिश और स्ट्रैचिंग के माध्यम से किया जाता है।

अगर आप चिकित्सा के क्षेत्र में कैरियर बनाना चाहते हैं तो फिजियोथेरेपी आपके लिए एक बेहतरीन विकल्प साबित हो सकता है। फिजिओथेरपी कोर्स के रूप में आप अपनी रुचि व सुविधानुसार स्नातक डिग्री, मास्टर डिग्री और डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं। आज के लेख में हम आपको फिजिओथेरपी के स्नातक डिग्री course के बारे में जानकारी देगें। अगर आप फिजियोथैरेपी कोर्स के रूप में स्नातक डिग्री कोर्स करना चाहते हैं तो हमारे आज का आर्टिकल आपके लिए बेहद ही महत्वपूर्ण साबित होगा। यहां हम आपको बताना चाहेंगे कि फिजियो थेरेपी कोर्स में स्नातक डिग्री कोर्स को ही बीपीटी कोर्स BPT Full Form in hindi (Bachelor of Physiotherapy) के नाम से जाना जाता है।


बीपीटी फुल फॉर्म क्या है?


BPT Full Form in English


B – Bachelor


P – Physio


T – Therapy


इस तरह BPT का फुल फॉर्म “Bachelor of Physiotherapy” है।


BPT full form in Hindi


BPT (Bachelor of Physiotherapy) full form हिंदी में “भौतिक चिकित्सा में स्नातक” होता है।


BPT full form जानने के बाद, BPT क्या है जानने से पहले, आपको फिजियोथैरेपी क्या होता है, और फिजियोथैरेपिस्ट किसे कहते हैं। इनके बारे में जानना जरूरी है तो आइए जानते हैं पहले इनके बारे में –


फिजियो थेरेपी क्या होता है? | Physiotherapy in Hindi


Physiotherapy, चिकित्सा के क्षेत्र की एक पद्धति है, जिसमें शारीरिक रोगों का इलाज नियमित व्यायाम, योग, आसन, मालिश और स्ट्रैचिंग के माध्यम से किया जाता है। इसमें ना तो दवाइयों के सेवन की आवश्यकता पड़ती है और ना ही किसी प्रकार के सर्जरी की।


इसमें मुख्य रूप से अस्थमा, पार्किंसंस रोग, हृदय रोग, स्ट्रोक, सिस्टिक फाइब्रोसिस, पेल्विक जैसे विभिन्न रोगों का इलाज किया जाता है।


इसके अलावा जब किसी व्यक्ति को मूवमेंट का समस्या, जोड़ों के दर्द, पैरालिसिस जैसी समस्याएं हो जाती हैं तब डॉक्टर फ़िज़ियोथेरेपिस्ट के पास जाने के लिए कहता है।


फिजियोथैरेपिस्ट कौन होता है? | Who is Physiotherapist in Hindi?


Physiotherapy यानी व्यायाम, मालिश और स्ट्रैचिंग के माध्यम से मरीज का इलाज करने वाले चिकित्सक को Physiotherapist कहा जाता है।


बीपीटी कोर्स क्या है? | BPT Course Details in Hindi


BPT जिसे Bachelor of Physiotherapy कोर्स कहा जाता है एक स्नातक डिग्री कोर्स है।


अगर आप फिजियोथैरेपी में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो आप फिजियोथैरेपी में बीपीटी कोर्स में प्रवेश ले सकते हैं।


एक फिजियोथैरेपिस्ट बनने के लिए BPT कोर्स को सर्वश्रेष्ठ कोर्स माना जाता है। इस कोर्स में फिजियो थेरेपी माध्यम से मरीज का इलाज करने के लिए उचित शिक्षा प्राप्त की जाती है।

Read This Also,

SSF Full Form

बीपीटी कोर्स पात्रता | Eligibility for BPT Course in Hindi


अगर आप फिजियोथैरेपी के BPT Course में प्रवेश पाना चाहते हैं तो आपके पास कुछ विशेष योग्यताओं का होना जरूरी है –


BPT course में प्रवेश पाने के लिए शैक्षणिक योग्यता | BPT course Educational Qualification


किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12th पास होना अनिवार्य है।


12th में कम से कम 50% अंक होने आवश्यक हैं। कुछ कॉलेज में प्रवेश के लिए यह सीमा 60% निर्धारित हो सकती है।


12th में आपका विज्ञान विषयों का होना अनिवार्य होता है और विज्ञान विषयों में रसायनिक विज्ञान, भौतिक विज्ञान और जीव विज्ञान तीनों का होना आवश्यक है।


BPT course के लिए Age limit


BPT (Bachelor of Physiotherapy) Course में प्रवेश के लिए candidates की Minimum age limit 17 वर्ष होनी जरूरी होती है। 17 वर्ष से कम आयु वाले candidates को BPT course में प्रवेश नहीं मिलता है।


बीपीटी कोर्स अवधि | BPT Course Duration or Physiotherapy Course Duration


BPT कोर्स की कुल अवधि 4 साल 6 महीने की होती है, जिसमें से 4 वर्ष में प्रत्येक six month पर semester exam देने होते हैं। यानी BPT कोर्स के अंतर्गत कुल 8 semester exam होते हैं। जबकि अंत के six months में किसी अस्पताल में इंटर्नशिप ट्रेनिंग में फिजियोथैरेपी का अनुभव लेना होता है।


बीपीटी कोर्स फीस | BPT Course Fees


बीपीटी कोर्स फीस (Physiotherapy Course Fees) प्रत्येक कॉलेज अपने-अपने अनुसार निर्धारित किए होते हैं।


अगर एक औसत बीपीटी कोर्स फीस की बात की जाए तो यह लगभग ₹20000 से लेकर ₹700000 तक हो सकती है।


BPT Kaise Kare?


बीपीटी कोर्स में एडमिशन आप कई तरीके से पा सकते हैं –


डायरेक्ट एडमिशन

मेरिट के आधार पर एडमिशन

एंट्रेंस एग्जाम के माध्यम से एडमिशन


डायरेक्ट एडमिशन


आपकों बहुत से college ऐसे मिल जाएंगे जो अपने यहां डायरेक्ट एडमिशन लेते हैं। डायरेक्ट एडमिशन में आपको ज्यादा कुछ करने को आवश्यकता नहीं होती है। ऐसे कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए उस कॉलेज में जाकर वहां फॉर्म fill up करके Admission fee deposit करने के बाद आप आसानी से एडमिशन ले ले सकते हैं।


मेरिट के आधार पर एडमिशन


इसके अलावा कुछ college आपको ऐसे भी मिल जाएंगे जो मेरिट के आधार पर एडमिशन लेते हैं। ऐसे कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए सबसे पहले आपको फॉर्म फील करना होगा। उसके पश्चात यहां 12th में प्राप्त नंबर के आधार पर मेरिट लिस्ट तैयार की जाती है, और इसके बाद ही आगे की प्रोसेस होती है।


एंट्रेंस एग्जाम के माध्यम से एडमिशन


कई colleges ऐसे होते हैं जो अपने यहां बीपीटी कोर्स में एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम ऑर्गनाइज कराते हैं। अगर आप ऐसे किसी कॉलेज का चयन करते हैं जहां प्रवेश परीक्षा के माध्यम से एडमिशन दिया जाता है तो इसके लिए ऐसी स्थिति में आपको प्रवेश परीक्षा की तैयारी करनी होगी, जिसके लिए आपकों अतिरिक्त समय लग सकता है।


BPT Course Ke Syllabus ?


BPT Course Ke Syllabus किया जाए तो इसमें प्रत्येक semester का Syllabus अलग-अलग होता है और साथ ही कॉलेज के हिसाब से भी Syllabus में थोड़ा कम ज्यादा difference हो सकते है, लेकिन ज्यादातर समान हो सकता है –


Anatomy

Biochemistry

Physiology

Electrotherapy

Sociology Positive Physiology and Mindfulness

Psychology

Basics of Yoga Therapy

Basics of Computer Applications


Top BPT colleges in India?


वैसे तो हमारे भारत में आपको कई सारे colleges मिल जाएंगे जहां आपको BPT कोर्स उपलब्ध मिलेंगे लेकिन यहां हम आपकी सुविधा के लिए कुछ Top BPT colleges के नाम बता रहे हैं जहां से आप BPT कोर्स में एडमिशन लेकर अपनी पढ़ाई कर सकते हैं –


Guru Gobind Singh Indraprastha University, Dwarka, New Delhi


Jamia Hamdard, New Delhi

Leave a Comment